नींद से नहीं जागा सिस्टम,सवालों के घेरे में जांच अधिकारी, आखिर कब खुलेगा जमीन में दबे तेल का 'खजाना'

  |   Meerutnews

मेरठ में 69 दिन बाद भी संजय कुमार के रतिराम खूबचंद केरोसिन ऑयल डिपो की खुदाई नहीं हो पाई है। आईओसीएल के अधिकारियों के कानों में जूं नहीं रेंगी। सारा मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। तेल कंपनी के साथ परतापुर थाने में दर्ज मुकदमे के जांच अधिकारी और पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारी भी सवालों के घेरे में हैं।

आखिर शुरुआती तेजी दिखाने वाला पुलिस-प्रशासन किस दबाव में अब सुस्त नजर आ रहा है? डिपो की निगरानी में अब तक तमाम सरकारी विभागों के द्वितीय श्रेणी के 276 अधिकारी मजिस्ट्रेट तैनात किए जा चुके हैं। जिससे इन विभागों का कामकाज तो प्रभावित हो ही रहा है, सरकारी खजाने को भी नुकसान पहुंच रहा है।...

फोटो - http://v.duta.us/crKlTwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/w_ecswAA

📲 Get Meerut News on Whatsapp 💬