न्यूटन की एक थियोरम को पांच तरीके से किया हल

  |   Patnanews

पटना : 1991 में न्यूटन की एक थियोरम (बायोनाेमियल परिमेय) a+x पर पॉवर एन का हल पटना विश्वविद्यालय के प्राध्यापक नहीं कर सके थे. उस थियोरम को दिवंगत डा वशिष्ठ नारायण सिंह ने पटना विश्वविद्यालय के तत्कालीन कुलपति डाॅ जगन्नाथ सिंह की अनुशंसा पर विश्वविद्यालय के गणित के छात्र मनोज कुमार सिंह को समाधान कर दिया. डाॅ वशिष्ठ ने इस थियोरम को पांच तरीके से हल कर दिया.

यही नहीं उन्होंने इस थियोरम को काल्पनिक नंबर से भी साबित किया,जबकि यह सभी जानते हैं कि ये थियोरम वास्तविक नंबरों के लिए ही थी. जब मनोज सिंह उस समाधान को लेकर उनके पैतृक आवास से निकले तो डाॅ वशिष्ठ बोले कि 'बबुआ, ई छठ्ठा तरीका भी ले जा. काम आयी'. गणित की इस समस्या को गणित जगत में काफी चर्चा मिली थी....

फोटो - http://v.duta.us/4s2uIwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/77BvLwAA

📲 Get Patna News on Whatsapp 💬