बांधों में पानी की कमजोर आवक ने अफसरों की बढ़ाई बेचैनी

  |   Hanumangarhnews

बांधों में पानी की कमजोर आवक ने अफसरों की बढ़ाई बेचैनी

-तय रेग्यूलेशन के अनुसार नहर चलाने पर 23 प्रतिशत इनफ्लो की जताई थी संभावना, मगर इतनी आवक नहीं होने से आगे बढ़ सकती है मुसीबतें

हनुमानगढ़. इंदिरागांधी नहर के रेग्यूलेशन को अगले माह यथावत रखने में दिक्कतें आ सकती हैं। क्योंकि वर्तमान में अपेक्षा के अनुरूप बांधों में पानी की आवक नहीं हो रही है। इसके कारण मध्य दिसम्बर के बाद इंदिरागांधी नहर को चार में दो समूह की बजाय आगे तीन में एक समूह में चलाने की तैयारी है। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार ३० सितम्बर २०१९ को हनुमानगढ़ में मुख्य अभियंता कार्यालय में संपन्न जल परामर्शदात्री समिति की बैठक में १२ दिसम्बर तक इंदिरागांधी नहर को चार में दो समूह में चलाने के साथ ही दिसम्बर मध्य के बाद इस नहर को तीन में एक समूह में चलाने का निर्णय लिया गया था। इस दौरान विभाग ने पानी की कमी बताते हुए ड्राइ इयर में २३ प्रतिशत इनफ्लो की संभावना जताई थी। लेकिन नवम्बर में अभी तक जो इनफ्लो आ रहे हैं, वह संतोषजनक नहीं लग रहे हैं। इससे अधिकारियों के चेहरे पर बेचैनी साफ देखी जा सकती है। जल संसाधन उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता विनोद कुमार मित्तल ने बताया कि ड्राइ इयर में अच्छे इनफ्लो होने की संभावना को शामिल करते हुए सितम्बर में इंदिरागांधी नहर का रेग्यूलेशन बनाया गया था।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/RecQ9gAA

📲 Get Hanumangarh News on Whatsapp 💬