बयान के लिए मुरादाबाद बुलाए गए रेलवे अधिकारी

  |   Shahjahanpurnews

शाहजहांपुर। गुडगांव से कारों को लेकर झारखंड के चंगसारी जा रही मारुति स्पेशल के पटरी से उतरने के मामले में जांच शुरू हो चुकी है। घटना के लिए दोषी माने जा रहे सीएंडडब्ल्यू और पीडब्ल्यूआई के अधिकारियों को बयान के लिए गुरुवार को मुरादाबाद बुलाया गया है। इसके साथ ही रेलवे के ए ग्रेड अधिकारियों की तीन सदस्यीय कमेटी मामले की जांच में जुटी हुई है।

दो दिन पहले मंगलवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे रोजा के अटसलिया फाटक से गुजर रही मारुति स्पेशल की तीन बोगियां अचानक पटरी से उतर गई थीं। बोगियों के पटरी से उतरने पर चक्के करीब 100 मीटर तक रगड़ते चले गए। जिससे रेलवे ट्रैक भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। घटना की सूचना से रेल प्रशासन में खलबली मच गई और कुछ ही देर में सभी घटना स्थल पर पहुंच गए। तुरंत ही बोगियों को पटरी पर लाने का काम शुरू किया गया। इस बीच तीन घंटे तक रेल यातायात प्रभावित रहा। दोपहर डेढ़ बजे लाइन क्लीयर की जा सकी। लेकिन पटरी से उतरी तीन बोगियां पटलने की वजह से नहीं हट पाईं। जिनको उठवाने में ही रात के साढ़े 10 बज गए। अपर मंडल रेल आयुक्त अश्वनी कुमार ने मौके पर पहुंचकर क्षतिग्रस्त रेलवे ट्रैक का निरीक्षण किया और उसको ठीक कराने के निर्देश दिए। इसके साथ ही घटना की ज्वाइंट रिपोर्ट तैयार कराई। जिसे मंडल कार्यालय भेज दिया गया था। बताया जाता है कि इसी ज्वाइंट रिपोर्ट के आधार पर रेलवे के अधिकारियों को मुरादाबाद मंडल कार्यालय पर बुलाया गया है। जहां उनके बयान दर्ज किए जाएंगे।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/mEciwgAA

📲 Get Shahjahanpur News on Whatsapp 💬