बाल दिवस- चाचा नेहरू के लाड़ले फंसते जा रहे हैं नशे के भंवर में

  |   Bareillynews

बरेली। कोमल मन, चंचल स्वभाव, खेल और पढ़ाई की धुन.. अगर आपके लाडले के स्वभाव में इससे इतर जरा सा भी बदलाव आए तो फ्रिकमंद हो जाइए। उसकी वजह तलाश कीजिए। कहीं आपका लाडला स्कूल में खराब संगत में पड़कर नशे का आदी तो नहीं बनता जा रहा। जी हां, इन दिनों स्कूली बच्चे व्हाइटनर के नशे के चंगुल में फंसते जा रहे हैं। इसका प्रमाण यह है जिला अस्पताल के मनोचिकित्सकों के पास हर महीने ऐसे 50-60 केस पहुंच रहे हैं। ये बच्चे किसी न किसी कान्वेंट स्कूल में पढ़ने वाले हैं और व्हाइटनर, पेट्रोल, मादक इनहालेंट से नशा करने के आदी हो चुके हैं। अब माता-पिता उनकी काउंसलिंग करा रहे हैं।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/b8GDTAAA

📲 Get Bareilly News on Whatsapp 💬