मतदाता का मन जीतने अंतिम दिन किस तरह चले दांव-पेच

  |   Chittorgarhnews

चित्तौैडग़ढ़. चित्तौैडग़ढ़ नगर परिषद, निम्बाहेड़ा एवं रावतभाटा नगरपालिका क्षेत्र में पिछले एक सप्ताह से जारी प्रचार अभियान का शोर गुरूवार शाम शाम पांच बजते ही थम गया। प्रचार थमने से पहले प्रत्याशियों व उनके समर्थक राजनीतिक दलों ने मतदाता का मन जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी। सभाओं से अधिक जोर घर-घर सम्पर्क पर रहा। प्रचार अभियान थमने के बाद शुक्रवार को प्रत्याशी व पार्टी नेता मतदाताओं से व्यक्तिगत सम्पर्क कर सकेंगे। प्रचार अभियान के अंतिम दिन चित्तौडग़ढ़ नगर परिषद क्षेत्र में भाजपा व कांग्रेस नेताओं ने अपने वार्ड प्रत्याशियों की जीत की राह सुगम बनाने के लिए हर प्रकार के दाव-पेंच चल दिए। चुनाव प्रचार सेे दूर दिख रहे कई नेता भी अंतिम दिन सक्रिय हो गए तो प्रत्याशियों ने वोटर का समर्थन हासिल करने के लिए अप्रत्यक्ष रूप से सामाजिक व धार्मिक संगठनों के पदाधिकारियों को भी मैदान में उतारने में हिचक नहीं दिखाई। कई वार्डो में जातिगत व धार्मिक आधार पर मतदाताओं का ध्रुवीकरण करने का प्रयास भी किया गया। महिला प्रत्याशियों के साथ पुरूष प्रत्याशियों के प्रचार के लिए भी परिवार की महिलाएं भी गली-गली घूम कर समर्थन मांगते दिखी। पहले से पार्षद रह चुके प्रत्याशी किसी तरह की कमी रहने पर इस बार ऐसा नहीं होने का विश्वास दिलाते रहे तो विरोधी प्रत्याशी ये भरोसा दिलाने का प्रयास करते रहे कि वार्ड की सूरत बदलने के लिए इस बार पार्षद भी नया चेहरा होना चाहिए।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/aDszCQAA

📲 Get Chittorgarh News on Whatsapp 💬