रातापानी के हाइ सिक्योरिटी एरिया में की जा रही प्रतिबंधित गतिविधियां

  |   Bhopalnews

भोपाल. एक ओर तो प्रदेश के वन मंत्री भोपाल, रासयेन और सीहोर जिलों के सीमावर्ती क्षेत्र स्थित रातापानी सेंक्चुरी को टाइगर रिजर्व बनाने की महत्वाकांक्षी योजना पर तेजी से काम करवा रहे हैं और दूसरी ओर वन विभाग के कर्मचारी इसे पलीता लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। टाइगर रिजर्व बनने जा रही इस सेंक्चुरी में बिना अनुमति प्रवेश, गाडिय़ां खड़ी करना, पिकनिक मनाना, आग जलाना, प्रेशर हॉर्न बजाना, जलस्रोतों के पास जाना, पॉलीथिन प्रयोग आदि प्रतिबंधित है, लेकिन सेटिंग करने के बाद यहां सभी प्रतिबंधित गतिविधियां की जा रही हैं।

सूत्रों की मानें तो छोटे वन्यजीवों का शिकार भी किया जा रहा है। इस जंगल में अवैध प्रवेश के चलते शाकाहारी प्राणी भी कम हो रहे हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने भी इस बात को माना है। वन क्षेत्र में काफी अंदर घुसकर शराब, जुआ और पिकनिक पार्टियां आयोजित की जा रही हैं, जिससे यह पता नहीं चले कि क्या हो रहा है। पत्रिका एक्सपोज के स्टिंग में इस बात का खुलासा हुआ कि सेटिंग करने के बाद यहां कुछ भी करते रहो कोई रोकने-टोकने वाला नहीं है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/G14ecAAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬