वर्तमान में प्रकृति के शुद्धिकरण की सख्त जरूरत

  |   Indorenews

वर्तमान में प्रकृति के शुद्धिकरण की सख्त जरूरत

प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव

इंदौर. आज के समय में प्रकृति के शुद्धिकरण की सख्त जरूरत है। चारों ओर वायुमंडल में हर तरह का प्रदूषण फल-फूल रहा है, जिससे हमें अकसर प्रकृति के प्रकोप का सामना करना पड़ रहा है। यज्ञ एक विज्ञान सम्मत आध्यात्मिक और दैविक क्रिया है, जो हमें स्वच्छ पर्यावरण के साथ नया जीवन भी देता है।

ये विचार श्रीविद्याधाम इंदौर-गुप्तकाशी के ब्रह्मचारी आचार्य पं. प्रशांत अग्निहोत्री ने शुक्रवार को दामोदर वंशीय जूना गुजराती (क्षत्रिय दर्जी समाज इंदौर) के तत्वावधान में यादव नगर में चल रहे प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में श्रीराम महायज्ञ की महत्ता बताते हुए व्यक्त किए। महोत्सव में प्रमुख विद्वानों का कैलाश गोयल, सुरेश चावड़ा, बालकृष्ण चावड़ा, सुंदरलाल गोयल व नारायण चौहान ने सम्मान किया गया। श्रीश्रीविद्याधाम के अधिष्ठाता स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती के सान्निध्य में पं. राजाराम पाठक, पं. कल्याणदत्त शास्त्री, पं. कौशलकिशोर पांडे आदि का सम्मान भी किया गया।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/0CKP0gAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬