विश्व मधुमेह दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों में मधुमेह रोगियों की स्क्रीनिंग की

  |   Tonknews

टोंक. स्वास्थ्य विभाग की ओर से आमजन को मधुमेह रोग के बारे में जागरूक करने के लिए गुरुवार को विश्व मधुमेह दिवस मनाया गया। इसके तहत जिला चिकित्सालय और जिले के समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में मधुमेह रोगियों की स्क्रीनिंग की गई।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अशोक कुमार यादव ने बताया कि भागदौड़ भरी जिंदगी में बदलती जीवनशैली, खानपान और मोबाइल फोन जैसे इलेक्ट्रॉनिक साधनों की वजह से डायबिटीज रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है। बच्चे भी तेजी से डायबिटीज के शिकार हो रहे हैं।

यादव ने बताया कि बच्चों में खराब पोषण और शारीरिक निष्क्रियता में वृद्धि के कारण बाल्यावस्था में डायबिटीज की आशंका बढ़ जाती है, लेकिन डायबिटीज से मुक्ति सम्भव है। जीवनशैली व खान-पान में बदलाव लाकर डायबिटीज से बचाव किया जा सकता है। मधुमेह रोग के कारणों में धू्रमपान, उच्च रक्तचाप, लिपिड का असामान्य स्तर एवं मोटापा प्रमुख रूप से शामिल है। डायबिटीज पीडि़त हर दूसरे व्यक्ति को पता ही नहीं होता कि उन्हें मधुमेह बीमारी है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/NsLOfwAA

📲 Get Tonk News on Whatsapp 💬