श्रद्धांजलि: वशिष्ठ बाबू हम शर्मिंदा हैं, आपको सहेज नहीं पाए

  |   Biharnews

नई दिल्ली. गुरुवार की सुबह घर पर था, जब मशहूर गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह (Vashishtha Narayan Singh) के देहांत की खबर पटना ब्यूरो के एक साथी ने वॉट्सऐप ग्रुप (Whatsapp Group) में डाली. सुबह नौ बजकर 24 मिनट पर डाली गई सूचना ये थी कि पटना में अपने छोटे भाई के साथ रह रहे वशिष्ठ बाबू को अस्पताल (PMCH) लाया गया था, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. खबरों के बीच रहने और उन्हें लोगों के साथ साझा करने का काम पिछले ढाई दशक से कर रहा हूं, लेकिन वशिष्ठ बाबू के जाने की खबर मन को झकझोर गई, क्योंकि हमारी जैसी कई पीढ़ियां उनकी विलक्षण कहानी को बचपन से ही सुनते आ रही है. एक छोटा सा ट्वीट कर दिया, ताकि देश-दुनिया को पता चल सके कि ये विलक्षण प्रतिभा अब हमारे बीच नहीं रही....

फोटो - http://v.duta.us/KFkCcgAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/qK6yegAA

📲 Get Bihar News on Whatsapp 💬