स्क्रब टाइफस से पशुपालकों की जान पर मंडरा रहा खतरा, चिकित्सा एवं पशुपालन विभाग ने कस ली कमर

  |   Udaipurnews

मानवेंद्र सिंह राठौड़/ उदयपुर. पशुओं से इंसानोंं में फैल रही स्क्रब टाइफस जैसी गंभीर बीमारी को नियंत्रण करने की चिकित्सा एवं पशुपालन विभाग ने कमर कस ली है। इसके लिए जिले के प्रभावित गंावों में अब मानव श्रम की बजाय ट्रैक्टर माउंटेट मशीन से साइपरमैथ्रिन स्प्रे कराया जा रहा है ताकि कम समय में अधिकांश गंावों में स्प्रे करवा कर पशुओं व उनके बाड़ों में पैदा हुए चींचड़ों का खात्मा किया जा सके। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के सर्वे के मुताबिक पिछले छह माह में स्क्रब टाइफस के जिले में 354 रोगी चिन्हित हुए है। जनवरी, 2019 से नवम्बर, 2019 तक 500 रोगी पाए गए है। इन दिनों मावली के विजनवास, घासा, रख्यावल, सिंधु एवं गुड़ली में पशुपालकों के पशु बाड़ों में साइपरमैथ्रिन का स्प्रे किया गया है। अब अगले चरण में भीण्डऱ, वल्लभनगर, झाड़ोल गोंगुदा, गिर्वा व सराड़ा के प्रभावित इलाकों में ग्राम पंचायतों के सहयोग से छिडक़ाव किया जाएगा।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/jAxflwAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬