सालीचौका और साईंखेड़ा मंडी बन्द रहने से किसानों को नहीं मिल रहा लाभ

  |   Narsinghpurnews

नरसिंहपुर/गाडरवारा-सांईखेड़ा। अन्नदाता किसानों को उनकी कृषि उपजों का वाजिब मूल्य दिलाने सरकार द्वारा मंडी उप मंडी एवं उपमंडी खोली गई हैं। लेकिन तहसील भर के किसानों को उपज की बिक्री के लिए गाडरवारा की जवाहर कृषि उपज मंडी पर निर्भर रहना पड़ता है। क्योंकि समीपी सालीचौका एवं सांईखेड़ा में मंडी होते हुए भी बंद रहने से किसानों को मंडी का लाभ नहीं मिल रहा।

सांईखेड़ा मंडी खुलने के आसार नहीं

तहसील के सांईखेड़ा में मंडी होते हुए भी वर्षों से बंद पड़ी थी। इसे लेकर किसान संगठनों एवं किसानों ने कई बार उच्चाधिकारियों यहां तक तत्कालीन कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन को भी उनके सांईखेड़ा आगमन पर यह समस्या बताई थी। इसके बाद बिसेन ने स्वयं मंडी पहुंच कर जायजा लेकर अधिकारियों को मंडी चालू कराने के निर्देश दिए थे। पूर्व एसडीएम एवं पूर्व कलेक्टर सहित अनेक अधिकारियों ने भी समय समय पर मंडी का भ्रमण किया। किसी तरह मंडी के अतिक्रमण हटाकर इसका काम भी चालू कराया गया। पूर्व में मार्च तक इसके बाद दीपावली तक मंडी चालू होने की बात कही गई। लेकिन यहां के हाल देखकर लग रहा है कि मंडी अभी कई महीने और चालू नहीं हो पाएगी। बताया गया है कि मंडी के भीतर के काम लगभग पूरे हो गए है, लेकिन बाहर गेट के पास का अतिक्रमण न हटने से मंडी चालू नहीं हो पा रही है। क्योंकि मंडी में आसानी से वाहनों के आने जाने में व्यवधान होने की समस्या तथा प्रशासनिक उदासीनता से मंडी बंद पड़ी है। इसका खमियाजा किसानों को लगभग 25 किमी दूर गाडरवारा मंडी में उपज लेकर बेचने जाना पड़ता है। सांईखेड़ा में मंडी होते हुए भी किसान इसके लाभ से वंचित हैं।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/73SeCwAA

📲 Get Narsinghpur News on Whatsapp 💬