हाथरस: भारत सरकार की टीम ने बताए पराली जलाने से होने वाले नुकसान

  |   Hathrasnews

फॉर्म मशीनरी ऐप से किसानों को ऑनलाइन मिलेगी कृषि यंत्रों की सुविधा

पराली जलने से होने वाले नुकसान के प्रति ग्रामीणों को किया जागरूक

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस

हाथरस। भारत सरकार कृषि मंत्रालय की टीम ने जिले के कई गांवों में दौरा कर पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में ग्रामीणों को जागरूक किया। वहीं भारत सरकार द्वारा यंत्रों के अभाव में किसानों द्वारा पराली को जलाने से रोकने के लिए एक ऐप जारी किया गया है। इस ऐप के माध्यम से किसान को अपने 5 किमी के क्षेत्र में ऑनलाइन डिमांड पर ऐप उपलब्ध हो सकेगा।

भारत सरकार की टीम ने गांव नगला गजुआ, गांव विशनदास, हतीसा आदि गांवों में किसानों को पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक किया। कृषि मंत्रालय के सहायक आयुक्त एसके उपाध्याय, तकनीकी अधिकारी मोहम्मद अली मौला, जिला कृषि रक्षा अधिकारी यतेंद्र सिंह, विषय वस्तु विशेषज्ञ डॉ. जितेंद्र शर्मा ने ग्रामीणों को पराली जलाने से होने वाले शारीरिक नुकसान के साथ साथ भूमि की उर्वरा शक्ति कम होने संबंधी जानकारी दी। वहीं टीम ने बताया कि भारत सरकार ने फॉर्म मशीनरी ऐप शुरू किया है।...

फोटो - http://v.duta.us/fqiBSQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/26wKQAAA

📲 Get Hathras News on Whatsapp 💬