12 दिन पहले ही जेल से छूटा है शादाब

  |   Hardoinews

हरदोई। गोकशी के मामले में गुरुवार को पाली से गिरफ्तार किया गया शादाब बेहद शातिर है। शादाब 12 दिन पहले ही दो नवंबर को जेल से जमानत पर छूटा है।

पाली थाना पुलिस ने बुधवार आधी रात के बाद छापा डालकर 10 गोकशों को गिरफ्तार किया है। इनमें पाली कस्बे के मोहल्ला शेखसराय निवासी शादाब कुरैशी पुत्र नसीब कुरैशी भी शामिल है। शादाब कुरैशी 10 अक्तूबर को पाली थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में पुलिस की गोली से घायल हुआ था। पुलिस ने इलाज कराने के बाद शादाब को जेल भेज दिया था। 23 दिन बाद दो नवंबर को ही शातिर शादाब जमानत पर जेल से रिहा हुआ है। पुलिस की मानें तो जेल से छूटने के बाद ही शादाब फिर से पुराने कारोबार में सक्रिय हो गया। इसकी भनक लगने पर पुलिस उसके पीछे लगी हुई थी। बुधवार की रात जैसे ही पुलिस को नगर में नई बस्ती में पानी की टंकी के पास मवेशी काटे जाने की जानकारी मिली वैसे ही पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दबिश दी। पुलिस की दबिश में 12 दिन पहले ही जेल से छूटा शातिर शादाब पुलिस के हत्थे चढ़ गया। शादाब के साथ ही पुलिस ने नौ अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है, जो गोकशी समेत अवैध रूप से मवेशी काटने में साथ दे रहे थे। फिलहाल पुलिस ने अन्य आरोपियों समेत आरोपी शादाब को रिपोर्ट दर्ज कर फिर से जेल भेज दिया है। एसओ धर्मेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि शादाब शातिर अपराधी है। उस पर सिर्फ पाली थाने में गोकशी समेत अन्य धाराओं के 15 से अधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस अन्य आरोपियों का भी आपराधिक इतिहास खंगालने में लगी है।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/9fDAxwAA

📲 Get Hardoi News on Whatsapp 💬