12 में रोज की चाकरी, दो रुपए की साबुन बट्टी

  |   Udaipurnews

जितेन्द्र पालीवाल @ उदयपुर. जमाना बदल गया। महंगाई कहां से कहां पहुंच गई। सरकार ने सातवां वेतन आयोग भी दे दिया, लेकिन अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड में भत्तों के नाम पर 'रीति-रिवाजÓ आज भी मानों बिजली के तारों पर झूलते नजर आ रहे हैं। सुनने में भले ही अजीब लगे, लेकिन इंजीनियरिंग की डिग्री के साथ नौकरी की शेखी बघारने वाले निगम के अभियंताओं को एवीवीएनएल प्रशासन आज भी 12 रुपए में प्रतिदिन नौकर रखने और दो रुपए की साबुन बट्टी गुजारा करने की सहूलियत दे रहा है। निगम में चतुर्थश्रेणी कार्मिकों से लेकर राजपत्रित अधिकारियों तक को ऐसे-ऐसे भत्ते दिए जा रहे हैं, जिन्हें देखकर महंगाई खुद भी शर्मा जाए। निगम पहले जब राजस्थान राज्य विद्युत मण्डल हुआ करता था, तब इस तरह के भत्ते देना तय हुआ था। आज भी ये भत्ते आगे नहीं बढ़ सके हैं। 30 साल से ये भत्ते न तो बंद किए जा रहे हैं, न ही इन्हें बढ़ाने या रिवाइज्ड करने पर किसी ने सोचा। गाहे-ब-गाहे बिजली कर्मचारी यूनियन के सदस्य जरूर मांग उठाते हैं, लेकिन अधिकारी मौन हैं।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/pf3KSQAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬