15 साल का रिकॉर्ड : 5 साल से ज्यादा सभापति की राजनीति नहीं बढ़ी आगे

  |   Alwarnews

अलवर. पिछले २५ सालों के चुनावों का रिकॉर्ड देखे तो अलवर नगर परिषद में सभापति बनने वाले नेता की आगे राजनीति नहीं बढ पाई। सभापति बनने के बाद न कोई विधायक बना न सांसद। यही नहीं कुछ तो वापस पार्षद के चुनाव पर आ गए। जबकि गांवों मंे पंचायत राज चुनाव में सरपंच, पार्षद बनने वाले कई नेता विधायक व सांसद बनने का सफर तय कर चुके हैं।

जानकारों का कहना है कि नगर परिषद के सभापति के पद पर पार्टियों की ओर से ज्यादातर बार एेसा चेहरा लाया गया जिसने आगे विधायक व सांसद की ओर बढऩे के प्रयास ही नहीं किए। इसके पीछे भी राजनीति होती रही है। ये बने पार्षद से आगे विधायक व मंत्री जिले भर में कई एेसे नेता हैं जो पंचायत समिति सदस्य व जिला पार्षद बनने के बाद विधायक, सांसद व मंत्री बने हैं। जिनमें डॉ. जसवंत यादव जिला पार्षद बने। फिर जिला प्रमुख भी रहे।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/ZuFN_gAA

📲 Get Alwar News on Whatsapp 💬