30 पुलिस कर्मियों को बीपी तो 38 मधुमेह से ग्रसित

  |   Mandsaurnews

मंदसौर. लायस क्लब द्वारा पुलिस लाइन परिसर में पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का नि:शुल्क मधुमेह, नेत्र, चर्म व रक्तचाप जांच शिविर का आयोजन किया गया। इसमें कुल 450 पुलिस जवानों का परीक्षण हुआ।

जिसमें 38 मधुमेह, 30 ब्लॅडप्रेशर के मरीज पाए गए। इस दौरान पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी ने भी अपना परीक्षण गया। इस अवसर पर डॉ. सुरेश पमनानी ने मधुमेह बीमारी को लेकर क्या-क्या सावधानियां रखना चाहिए। इसको लेकर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यह साधारण बिमारी है परन्तु लापरवाही करने पर बहुत घातक हो सकती है। छोटी सी परेशान बड़ा परिणाम भोगना पड़ सकता है। आप लोग समाज के प्रमुख अंग है, समाज की सेवा करते है। अपनी लापरवाही एवं गलती बड़ा इल्जाम दे सकती है। इसलिए प्रतिदिन 40 मिनिट व्यायाम करे, सामान्य भोजन, हरी सब्जियों का सेवन खूब करें। समय रहते ध्यान नही दिया तो मधुमेह से किडनी खराब हो सकती है। उच्च रक्तचाप हो सकता है। आंखों की रोशनी जा सकती है। मधुमेह बीमारी की जड़ है। इस शिविर में डॉ. प्रदीप चेलावत, डॉ. गुंजन मेहता, डॉ. वलिम एहमद एवं लाभमुनि नेत्र चिकित्सालय की टीम ने अपनी सेवाएं दी।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/_-gpkwAA

📲 Get Mandsaur News on Whatsapp 💬