नहीं👎 खत्म हुआ गुर्जर आंदोलन, कई रेल🛤 व सड़क मार्ग बंद

  |   समाचार / Rajasthan-Election / Rajasthannews

गुर्जर सहित पांच जातियों को आरक्षण संबंधी विधेयक विधानसभा में पारित किए जाने के बाद भी राजस्थान में गुर्जरों का आंदोलन शुक्रवार को आठवें दिन जारी रहा। इस आंदोलन के चलते गुर्जर बहुल जिलों में कई रेल व सड़क मार्ग बंद हैं। वहीं गतिरोध को खत्म करने के लिये सरकार की ओर से पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह और आरक्षण संघर्ष समिति के प्रतिनिधियों के बीच सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में बंद कमरे में बैठक चल रही है। बैठक में आंदोलनकारियों के प्रतिनिधि भी शामिल हैं।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी अभय शर्मा ने बताया कि गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते पिछले आठ दिनों में 64 रेलगाडि़यों को निरस्त किया गया और 71 रेलगाडियों के मार्ग में परिवर्तन किया गया, वहीं 32 रेलगाडियां आंशिक रूप से रद्द की गई हैं।

गौरतलब है कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने यह विधेयक ऐसे समय में पारित कराया है, जब गुर्जर समुदाय के लोग किरौड़ी सिंह बैंसला के नेतृत्व में छह दिन से आंदोलन कर रहे हैं। उनके प्रदर्शन के कारण दिल्ली - मुंबई रेलमार्ग सहित अनेक रेल और सड़क मार्ग अवरुद्ध हैं।

विधेयक के जरिए राज्य में पांच अति पिछड़ी जातियों (1) बंजारा/ बालदिया/लबाना (2) गाडिया लोहार/ गाडोलिया (3) गुर्जर/गुजर (4) राइका/ रैबारी/ देबासी (5) गडरिया/गाडरी/ गायरी को पांच प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया गया है। साथ ही, राज्य में पिछड़ा वर्ग आरक्षण को मौजूदा 21 प्रतिशत से बढाकर 26 प्रतिशत करने का प्रावधान किया गया है।

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/oZWRHQAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬