[alwar] - गोल-गप्पे खिलाने के बहाने घर से ले गया, फिर किडनैप कर मांगी इतने लाख की फिरौती, पुलिस ने यहां से दबोचा

  |   Alwarnews

भिवाड़ी के रीको औद्योगिक क्षेत्र के फेज 3 में रहने वाले पांच साल के बालक लवकुश का अपहरण करने वाले नामजद आरोपी सुधीर को पुलिस ने दिल्ली के रेलवे स्टेशन के समीप से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके चंगुल से बालक को मुक्त कराकर दस्तयाब कर लिया है। आरोपी ने बालक के पिता से फोन पर दो लाख रुपए की फिरौती भी मांगी बताई। वह बालक को गोल-गप्पे खिलाने के बहाने घर से ले गया था।

फूलबाग थाने के एएसआई जसवंत सिंह ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी सुधीर (35) पुत्र राजकुमार राजवंशी है, जो मूलत: बिहार के गया जिले के गांव धूमा (थाना फतेहपुर) का रहने वाला है। सुधीर यहां गोल-गप्पे की ठेली लगाता है और बालक के पड़ौस में ही रहता है। पड़ौसी होने के कारण उसका बालक के घर आना जाना लगा रहता था। बालक लवकुश (5) के पिता विनय रविदास भी बिहार के गया जिले बाराभट (थाना अलीपुर) का रहने वाला है। इस कारण दोनों के बीच अच्छी जान-पहचान हो गई। दोनों ही यहां सूरज सिनेमा के समीप रहते हैं। विनय एक कंपनी में काम करता है और 9 फरवरी को वह कंपनी से काम कर लौटा था तो बालक घर पर नहीं मिला। उसकी बेटी ने बताया कि लवकुश को पड़ौसी सुधीर अपने साथ गोल-गप्पे खिलाने ले गया है। काफी देर तक सुधीर बालक को लेकर नहीं लौटा तो विनय ने सुधीर को मोबाइल पर कॉल की। सुधीर ने कहा कि वह कुछ ही देर में आ रहा है, लेकिन काफी देर तक वह नहीं लौटा। शाम को आरोपी सुधीर ने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया। इस पर विनय को शक हुआ तो उसने इसकी सूचना पुलिस को दी।...

फोटो - http://v.duta.us/mc80MgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4sBywAAA

📲 Get Alwar News on Whatsapp 💬