[anuppur] - कोतमा में रेलवे ई-टिकट के अवैध कारोबार में तीन आरोपी गिरफ्तार

  |   Anuppurnews

गुप्तचर शाखा और रेलवे सुरक्षा बल मनेन्द्रगढ़ ने संयुक्त कार्रवाई

अनूपपुर। कोतमा में रेलवे ई-टिकट के फर्जी कारोबार में १३ फरवरी की दोपहर गुप्तचर शाखा अनूपपुर एवं रेलवे सुरक्षा बल मनेन्द्रगढ़ (छतीसगढ़) ने कोतमा स्थित नामदेव कम्प्यूटर दुकान में संयुक्त रूप से छापामारी करते हुए ३८ वर्षीय मत्युंजय नामदेव पिता मोहन नामदेव निवासी वार्ड क्रमांक ६ से रेल के ई-टिकट बनाने के सम्बंध में वैद्यानिक कागजात की मांग की। जिसमें कोई भी वैद्य प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं कर सका और बताया कि वह बुढानपुर स्थित मीरा ऑनलाईन के मालिक हेमंत कुमार साहू व एमडी कम्प्यूटर के मालिक द्वारा ग्राहकों की मांग पर मेरे द्वारा बनाई जाती है। कार्रवाई में पुलिस ने दो नग प्रिमियम तत्काल टिकट कीमत २०४० एवं नगद ४५०० रूपए। ३२ वर्षीय हेमंत कुमार साहू पिता भागवत प्रसाद साहू निवासी १४ के कम्प्यूटर जांच करने पर ४ नग प्रिमियम तत्काल/ तत्काल टिकट कीमत ३०१५ रूपए व नगद ४०५० रूपए तथा मो. वारीस सौदागर पिता बसीरूद्दीन सौदागर निवासी वार्ड क्रमांक ३ की कम्प्यूटर जांच में ४ नग तत्काल प्रिमियम कीमत २८६५ रूपए व नगद १६० रूपए पाए गए। वहीं तीनों आरोपी रेल ई-टिकटो को बनाने के सम्बंध में लायसेंस दिखाने में असमर्थ रहे। आरोपियों ने बताया कि ग्राहकों से यात्रा टिकट बनाने में १५०-१५० रूपए अतिरिक्त कमीशन लेकर टिकट का अवैध व्यापार करता था। तीनों आरोपी को पुलिस ने मनेन्द्रगढ़ सुरक्षा बल पोस्ट लगा गया तथा तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर १४ फरवरी को विशेष रेलवे न्यायालय जबलपुर भेज दिया गया। कार्रवाई में गुप्तचर शाखा प्रभारी आरपी सिंह, उपनिरीक्षक आरएस मिश्रा, प्रधान आरक्षक एसबी प्रसाद, आरक्षक पीके मिश्रा, एसएस यादव, रणवीर एवं प्रभारी निरीक्षक मनेन्द्रगढ़ एसआई अनवर, सहायक उपनिरीक्षक सीपी मैत्री व आरक्षक एमके मेहता शामिल रहे। विदित हो कि इससे पूर्व जैतहरी में फर्जी टिकट बनाने की सूचना पर गुप्तचर शाखा व जीआरपी अनूपपुर चौकी ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

फोटो - http://v.duta.us/uZYmUgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/kqSidAAA

📲 Get Anuppur News on Whatsapp 💬