[bhilwara] - हर दिन 18 लाख रुपए का दूध पीते हैं यहां के बच्चे, गुरूजी नहीं चुका पा रहे पैसा

  |   Bhilwaranews

भीलवाड़ा।

जिले के सरकारी स्कूलों पर दूध का कर्ज चढ़ गया है। सरकार की अन्नपूर्णा दूध योजना के तहत नवंबर 2018 के बाद से पैसा नहीं आया है। दिसंबर में नई सरकार बनी तो पुरानी सरकार ने भी इससे पहले बजट नहीं भेजा। अब नवंबर के बाद से स्कूलों में दूध का बजट नहीं आया है। नवंबर में भी जिले के अधिकारियों ने कीचनशैड निर्माण के मद से दूध का बिल चुकाया। अब आगामी बजट नहीं आया तो गुरुजी अपनी जेब ढीली कर रहे हैं। जिले में 2911 स्कूलों के दो लाख ६७,७४५ बच्चों को दूध पिलाया जा रहा है। रोज ४५ हजार लीटर दूध की खपत होती है। इसका करीब १८ लाख रुपए भुगतान होता है। मिड डे मील निदेशालय से समय पर बजट नहीं भेजने से गुरुजी की समस्या बढ़ गई है। स्कूलों में बच्चों को दूध नहीं पिलाए तो संकट और अब दूध खरीदने में भी समस्या आ रही है। अधिकांश स्कूलों में संस्था प्रधान स्वयं के स्तर पर दूध का पैसा यह सोचकर चुका रहे हैं कि बजट आएगा तो एडजेस्ट कर लेंगे लेकिन अभी तक दूध का बजट जारी नहीं होने के कारण स्थितियां गंभीर होना शुरू हो गई हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/84TizwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/JQ3EigAA

📲 Get Bhilwara News on Whatsapp 💬