[chandauli] - मौसम का रूख बदला, पारा तीन डिग्री लुढ़का

  |   Chandaulinews

पीडीडीयू नगर। मौसम के उतार चढ़ाव से एक बार फिर ठंड और गलन का असर बढ़ गया है। तापमान में भी तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। वहीं मौसम का रूख देखकर किसानों की भी चिंताएं बढ़ने लगी हैं। उन्हें ओला पड़ने का भय सताने लगा है। इससे दलहनी और तिलहनी की फसलों के नुकसान होने का खतरा है। हालांकि बारिश से गेहूं के लिए तो फायदा है लेकिन अन्य फसलों को नुकसान पहुंच सकता है।

गुरुवार को तापमान में भी तीन डिग्री गिरावट दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 23 और न्यूनतम तापमान 16 डिग्री पहुंच गया। जबकि बुधवार को अधिक 26 और न्यूनतम तापमान 13 डिग्री था। सुबह धूप खिली लेकिन दिन में 10 बजे के बाद आसमान में बादल छाने से ठंड और गलन बढ़ गई। दिनभर बादलों से आसमान ढका रहा। शाम करीब चार बजे हल्की धूप खिली लेकिन फिर थोड़ी देर बाद बादलों ने ढक लिया। बीएचयू के मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय के अनुसार जमीन की सतह पर पुरवा और सतह से एक से डेढ़ किमी की ऊंचाई पर पछुवा हवा चलने से मौसम परिवर्तन हुआ है। इससे मैदानी और पर्वतीय इलाकों में हल्की से भारी बारिश के साथ ओले पड़ने की आशंका है। फिलहाल मौसम दो दिन तक इसी तरह बने रहने की संभावना है। चिकित्सक डॉ. सीएस झा का कहना है कि मौसम के उतार एवं चढ़ाव से गर्मी और ठंड का असर होने से स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ रहा है। सर्दी और जुकाम के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इससे बच्चों को मौसम पर अधिक प्रभाव पड़ा रहा है। सांस के मरीजों को ज्यादा परेशानी उठानी पड़ रही है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/S8kj1QAA

📲 Get Chandauli News on Whatsapp 💬