[chhatarpur] - अभी तक किसानों को नहीं मिला खरीफ का भुगतान, मानदेय नहीं मिलने से ऑपरेटरों ने रबी पंजीयन का किया काम बंद

  |   Chhatarpurnews

छतरपुर। राज्य की नई सरकार सत्ता में आते ही किसानों की मुश्किलें कम करने के लिए प्रतिबद्धता दिखाने लगी। किसानों के कर्ज तक माफ करने की कवायद शुरु की गई। इसके साथ ही समर्थन मूल्य पर किसानों की फसल खरीदी की तारीख तक बढ़ाई गई, ताकि किसानों को परेशानी का सामना न करना पड़े, लेकिन राज्य सरकार की मंशा के विपरीत सरकारी सिस्टम किसानों की समस्याओं को और बढ़ा रहा है। कर्जमाफी की योजना आते ही किसानों के नाम से लिए गए फर्जी ऋणों की पोल खुलने लगी। सरकारी तंत्र में शामिल लोग किसानों को हर योजना में पलीता लगाने में जुटे हुए हैं। कर्जमाफी के अलावा समर्थन मूल्य पर खरीफ की फसल खरीदी और अब उसके भुगतान में भी किसानों को परेशान किया जा रहा है। समर्थन मूल्य पर जिले में किसानों की खरीफ सीजन की उपज जिले के 55 खरीद केन्द्रों के माध्यम से खरीदी गई थी। खरीद की तारीख बढ़ाने के बाद 19 जनवरी तक किसानों की उपज खरीदी गई। शासन के नियमानुसार खरीद के एक सप्ताह में किसानों को उनकी उपज की राशि का भुगतान खाते में किया जाना है। लेकिन मार्कफेड और जिला सहकारी बैंक की लापरवाही के कारण किसानों को अभी तक उनकी उपज का दाम नहीं मिल पाया है। जिलेभर के किसान अपनी उपज का रुपया पाने के लिए बैंक और उनकी शाखाओं के चक्कर लगा रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर ई-उपार्जन के काम में 10 अगस्त से काम कर रहे कंप्यूटर ऑपरेटरों को 5 महीने से मानदेय नहीं मिलने से उन्होंने रबी फसल के लिए पंजीयन का काम बंद कर हड़ताल शुरु कर दी है। ऑपरेटरों के काम बंद करने से अब रबी फसल के पंजीयन का काम ठप हो गया है। जिससे भी किसानों की ही मुश्किलें बढ़ गई हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/VSmEPAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qJ8KpgEA

📲 Get Chhatarpur News on Whatsapp 💬