[gwalior] - मानव जीवन की समस्याओं का हल प्रकृति के पास

  |   Gwaliornews

ग्वालियर. मानव जीवन की कठिन समस्याओं का हल जब गणित और विज्ञान के माध्यम से प्रााप्त करने में अक्षम हो जाता है, तो वह प्रकृति से इन समस्याओं के हल के लिए प्रेरणा प्राप्त करता है। यह प्रेरणा समुचित समाधान देने में सक्षम होती है। यह बात एमआइटीएस में आयोजित शॉर्ट टर्म कोर्स के दूसरे दिन जयपुर से डॉ. राजेश कुमार ने पार्टिसिपेंट्स को समझाते हुए कही। यह कार्यक्रम एआइसीटीई क्यूआइपी की आरे से एमआइटीएस परिसर में आयोजित किया जा रहा है।

टीचिंग लर्निंग एल्गोरिद्म पर डिस्कशन

डॉ. राजेश ने बंदरों के व्यवहार से जनित स्पाइडर मंकी एल्गोरिद्म के माध्यम से तकनीक विज्ञान एवं गणित की समस्याओं को हल करना बताया। साथ ही मधुमक्ख्यिों के व्यवहार से प्रेरित एडवांस बी ऑप्टीमाइजेशन पर चर्चा की। आइआइटी रुड़की की डॉ. मिल्ली पंत ने पार्टिकल स्वार्म ऑप्टीमाइजेशन का समाधान प्राप्त करने के तरीकों पर चर्चा की। इस विषय में वर्तमान में हो रहे अनुसंधानों की जानकारी भी दी गई। डॉ. मंजरी पंडित ने डिफ्रेंशियल एल्गोरिद्म पर विस्तार से बताते हुए समस्याओं को हल करने की जानकारी दी। डॉ. एके वाधवानी ने फजी लॉजिक एवं डॉ. सुलोचना वाधवानी ने टीचिंग लर्निंग एल्गोरिद्म के संबंध में विस्तार से समझाया।...

फोटो - http://v.duta.us/2qNyYwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Xsp3mwAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬