[indore] - तांबे के बर्तन में धीमी आंच में पकाने के बाद तैयार होते है यह स्वादिष्ट व्यंजन

  |   Indorenews

इंदौर. कश्मीर की शादियों में बनने वाले पारंपरिक भोजन को कश्मीरी वाजवानी नजाकत के नाम से जाना जाता है। कश्मीर के वाजवान का पारंपरिक स्वाद दुनिया भर में मशहूर है। इसे पकाने वाले को वाजास कहा जाता है। यह बात सयाजी होटल में आयोजित कश्मीरी फूड फेस्टिवल में शामिल हुए कश्मीर के शेफ रियाज ने कही। रियाज ने बताया, इस वाजवान में 36 प्रकार की वेजिटेरियन और नॉन वेजिटेरियन डिशेस शामिल हैं, जिनमें कश्मीर का दम आलू, चटपटी मशरूम, कश्मीरी हात, नदूर की यकनी, जालिम की सब्जी खास है।

कश्मीरी वड़ी मसाला है खास

कश्मीर का वड़ी मसाला वहां के भोजन को खास बनाता है। इसकी खासियत है कि इसमें एक खास खुशबू होती है। साथ ही हल्के से चटपटेपन के साथ तीखा स्वाद होता है। ये स्वाद दुनिया में कहीं और मिल पाना संभव नहीं है। इसके अलावा कश्मीरी भोजन की विशेषता होती है कि इसे तांबे के बर्तन में धीमी आंच में पकाया जाता है।...

फोटो - http://v.duta.us/WRV62QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/F81cTwAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬