[jaunpur] - कस्तूरीपुर-दुगौलीकला गांव के बीच पीली नदी पर पुल बनाने की मांग

  |   Jaunpurnews

बदलापुर। क्षेत्र के कस्तूरीपुर-दुगौलीकला गांव के बीच पीली नदी पर बना रपटा पुल बारिश के दिनों में डूबने से दर्जन भर से ज्यादा गांव का सम्पर्क तहसील मुख्यालय से टूट जाता है। तहसील मुख्यालय पहुंचने के लिए आठ दस किलोमीटर की अतरिक्त दूरी तय करनी पड़ती है। पीली नदी पर दशकों से बनें रपटा पुल की स्थित भी जीर्ण शीर्ण हो चुका है। बारिश के दिनों में रपटा डूबने से बहरीपुर , दुगौलीकला , दुगौलीखुर्द , तियरा , दुधौड़ा , रूपपुर , लबिदाही , फिरोजपुर , जमऊपट्टी , रतासी आदि दर्जन भर से ज्यादा गांव के लोगों का सम्पर्क तहसील मुख्यालय से टूट ज्यादा है। लोगों को बदलापुर आने के लिए अतरिक्त दस किलोमीटर की दूरी तय कर बटाऊबीर से आना पड़ता है। दुगौलीकला के पूर्व ग्रामप्रधान बाबूराम यादव ने पूर्व की सरकार में मंत्री रहे शैलेन्द्र यादव ललई से रपटा पर पुल बनवाए जाने की मांग किया था किन्तु आज तक पुल नहीं बन पाया। रपटा पुल जीर्ण शीर्ण होने से स्थित गंभीर बनी हुई है। किसी भी समय यह दगा दे सकता है। जिससे एकबारगी लोगों के सामने आवागमन को लेकर समस्या गहरा सकती है। गौरा निवासी समाजसेवी सुजीत सिंह, शिक्षक अखिलेश तिवारी , शिक्षक डा. जेपी सिंह आदि ने क्षेत्रीय सांसद डॉ केपी सिंह एवं विधायक रमेशचन्द्र मिश्र से मुलाकात कर रपटा पुल पर पुल बनवाए जाने की मांग की है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/yD9O_QAA

📲 Get Jaunpur News on Whatsapp 💬