[kaushambi] - बारिश के साथ पड़े ओले, बढ़ी ठंड

  |   Kaushambinews

बारिश के साथ पड़े ओले, बढ़ी ठंड

फसलें चौपट होने की आशंका से सहमे किसान

मंझनपुर/सरायअकिल/कनैली। शुक्रवार को मौसम का मिजाज कुछ ज्यादा ही बिगड़ा दिखा। दिन में रुक-रुककर बारिश के साथ ही कहीं-कहीं ओले भी पड़े। इसके चलते सर्दी बढ़ गई। साथ ही खेतों में खड़ी फसलों की बर्बादी का खतरा बढ़ गया है। जिले के किसान संभावित नुकसान से सहमे हुए हैं।

फरवरी के पहले हफ्ते में मौसम पूरी तरह से साफ हो गया था। दिन में चटख धूप होने से लोगों ने गरम कपडों से दूरी बनाना शुरू कर दिया था। इसी बीच पहाड़ों में बर्फबारी शुरू हो गई। तीन दिन से इसका असर दोआबा में भी देखने को मिल रहा है। छिटपुट बूंदाबांदी के बाद शुक्रवार को जिले के अलग-अलग हिस्सों में दिनभर रुक-रुककर बरसात हुई। सदर तहसील के कनैली क्षेत्र के विभिन्न गांवों में ओले भी पड़े। बारिश के साथ ओले पड़ने से इलाकाई किसान डर गए। किसानों खेताें में खड़ी फसल नष्ट होने की चिंता सताने लगी है। जुगराजपुर के टुनटुन, कनैली के सीतासरन, मेड़रहा के रामदीन व दिया के सुखराम आदि किसानों का कहना है कि जिस तरह से लगातार तेज हवा व बारिश हो रही है, उससे किसानों को फ ायदा कम नुकसान ज्यादा है। ओले के साथ बारिश से खेतों में खड़ी सरसों, अरहर, चना, मटर आदि की फ सलों को ज्यादा नुकसान है। मौसम का मिजाज देख किसानों की धड़कनें तेज होने लगी हैं। किसान मौसम साफ रहने के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहे हैं। दूसरी तरफ मानसून बिगड़ने से सर्दी बढ़ गई है। लोग जाड़े से बचने के लिए शुक्रवार को अलाव तापते नजर आए। बारिश के चलते ग्रामीण क्षेत्रों में दिक्कतें बढ़ गई हैं। सड़कों पर कीचड़ फैल गया है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/AHRyDwAA

📲 Get Kaushambi News on Whatsapp 💬