[kota] - #AbAurNahi : चंद घंटों पहले आई थी सकुशल पहुंचने की सूचना फिर आया शहादत का संदेश

  |   Kotanews

कोटा. अब न तो हेमराज अपने दोस्तों से मिलेंगे और न ही कभी घर छुटिटयां बितानें अपने गांव आएंगे, लेकिन देशवासियों के दिलों में हमेशा रहेंगे। सांगोद जिले के विनोदखुर्द गांव के रहने वाले शहीद हेमराज तीन दिन पहले ही छुट्टियां बीताकर लौटे थे। वे जब भी अपने गांव आते थे तो जैसे पूरा गांव ही उन्हें अपना परिवार महसूस होता।

वे नए पराने दोस्तों से आत्मीयता से मिलते, उन्हें मातृभूमि के किस्से सुनाते। परिवार के बच्चे बच्चे से खुले दिल से बतियाते थे। हेमराज इतने मिलनसार थे कि अपनों से मिलने का कोई मौका ही हाथ से नहीं जाने देते थे। खास बात तो यह भी थी कि तीन दिन पहले जब वे छुट्टियां बीताकर लौटे तो उन्होंंने वहां पहुंचते ही उन्होंने परिवार को सकुशल पहुंचने की सूचना दी। इसके चंद घंटे बाद ही जो सूचना सीमा से परिवार जनों के पास आई, उसने पूरे गांव को हिलाकर रख दिया। हर आंख में आंसू है, दर्द है, अब न हेमराज छुट्टियों में गांव आएंगे, न दोस्तों से दोस्ती की बातें होगी, बस दिलों में हेमराज की दोस्ती की यादें हमेशा ताजा रहेगी।...

फोटो - http://v.duta.us/MBY9QAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8lPiKgAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬