[muzaffarnagar] - लोकसभा चुनाव 2019: भाजपा का गणित न बिगाड़ दें अवतार सिंह भड़ाना, ये रही बड़ी वजह

  |   Muzaffarnagarnews

गुर्जर बिरादरी के कद्दावर नेता अवतार सिंह भड़ाना ने भाजपा का साथ छोड़कर एक बार फिर कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। लोकसभा चुनाव 2014 में कांग्रेस के टिकट पर फरीदाबाद सीट से चुनाव हारने के बाद वह भाजपा में शामिल हुए थे। लेकिन चार साल में ही भाजपा से मोह भंग हो गया। भड़ाना यूपी मंत्रीमंडल में जगह न मिलने के कारण नाराज चल रहे थे। माना जा रहा है कि वह लोकसभा चुनाव फिर से फरीदाबाद सीट से लड़ेंगे। वहीं, पश्चिमी यूपी की कई सीटों पर वे भाजपा का गुर्जर वोटों का गठित बिगाड़ सकते हैं।

अवतार सिंह भड़ाना की राजनीति का मुख्य केंद्र हरियाणा का फरीदाबाद और उत्तर प्रदेश की बिजनौर व मेरठ लोकसभा सीट रही है। कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री राजेश पायलट की मृत्यु के बाद यूपी और हरियाणा में भले ही कोई सर्वमान्य गुर्जर नेता न बन पाया हो, लेकिन अवतार को गुर्जर बिरादरी का कद्दावर नेता जरूर माना गया। भड़ाना 1999 में मेरठ-मवाना लोकसभा सीट से सांसद बने थे। इसके बाद वे मेरठ में लगातार सक्रिय रहे और कैंट स्थित माल रोड पर उन्होंने अस्थायी आवास भी बना लिया। हालांकि 2004 के लोकसभा चुनाव में वे वापस फरीदाबाद लौट गए। 2014 के लोकसभा चुनाव में भड़ाना कांग्रेस के टिकट पर फरीदाबाद से चुनाव लड़े, लेकिन मोदी लहर में हार गए। इसके कुछ दिन बाद उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया। भाजपा ने उन्हें अपनी राष्ट्रीय कार्यसमिति में स्थान दिया, तो गुर्जर नेता के रूप में उन्हें स्वीकार करते हुए यूपी के विधानसभा चुनाव 2017 के लिए सक्रिय कर दिया।...

फोटो - http://v.duta.us/p_hjTgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/CYSikwAA

📲 Get Muzaffarnagar News on Whatsapp 💬