[pali] - दोपद्री का चीर बनी यह योजना, क्या है मामला, पढ़ें पूरी खबर...

  |   Palinews

पाली। शहरवासियों की सुविधा के लिए बिछाई जाने वाली सीवर-पेयजल लाइन का कार्य दोपद्री के चीर की तरह लम्बा होता जा रहा है। यह कार्य अक्टूबर 2018 में पूरा होना था, लेकिन अभी तक शहर के कई मोहल्लों में सीवर-पेयजल लाइन बिछाई जानी है। जबकि कई मोहल्लों में लाइन बिछाने के बाद सडक़ों का निर्माण नहीं किया गया। ऐसे में लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सडक़ पर छोड़े गए गड्ढों के कारण कई बार शहरवासी गिरकर चोटिल हो चुके हैं।

शहर में कछुए जैसी चाल से हो रहे सीवर-पेयजल लाइन कार्य को लेकर आरयूआइडीपी के जिम्मेदार अधिकारियों का कहना है कि कार्य के दौरान कई परेशानियां आ गई। इस कारण कार्य को गति नहीं दी जा सकी। अभी तक आधा ही हो पाया है कार्य नवम्बर 2015 में सीवर व पेयजल पाइप लाइन बिछाने का कार्य शुरू किया गया। करीब 400 करोड़ के इस प्रोजेक्ट में 508 किलोमीटर सीवर लाइन बिछाई जानी है। जिसमें से अभी तक 205 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है। पेयजल लाइन 650 किलोमीटर बिछाई जानी है। जिसमें से अभी तक 400 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जा सकी है। जिसे पूरा करने में करीब अभी भी डेढ़-दो वर्ष लगेंगे। अधिकारियों की माने तो मार्च 2020 तक सीवर व पेयजल लाइन बिछाने का काम पूरा हो सकेगा।...

फोटो - http://v.duta.us/yJVG0wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/j7RxZQAA

📲 Get Pali News on Whatsapp 💬