[pilibhit] - बोर्ड परीक्षा में सख्ती का दावा, सचल दलों की गाड़ियां तक नसीब नहीं

  |   Pilibhitnews

पीलीभीत। यूपी बोर्ड परीक्षा शुरू हुए करीब सप्ताह भर हो चुका है, लेकिन जिला प्रशासन सचल दलों को अभी तक वाहन मुहैया नहीं करा सका है। बृहस्पतिवार को भी सचल दल हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे। इधर, बृहस्पतिवार को जिले के सभी 73 परीक्षा केंद्रों पर पहली पाली में अंग्रेजी और कॉमर्स विषय की परीक्षा हुई। इसमें 25566 परीक्षार्थी शामिल रहे, जबकि 2840 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी।

शासन ने नकलविहीन बोर्ड परीक्षा संपन्न कराने को पूरी ताकत झोंक दी है, लेकिन जिला स्तर पर परीक्षा कराने में अफसर संजीदा नहीं दिख रहे हैं। बोर्ड परीक्षा को लेकर चार सचल दलों का गठन किया गया है। डीआईओएस संत प्रकाश ने परीक्षा शुरू होने से पूर्व ही जिला प्रशासन से सचल दलों के लिए चार वाहनों की डिमांड की थी, लेकिन जिला प्रशासन अब तक एक वाहन ही उपलब्ध करा सका है। यह वाहन सचल दल प्रभारी तौलेराम वर्मा को दे दिया गया। वाहनों की व्यवस्था न होने से डीआईओएस संतप्रकाश अपने पुराने विभागीय वाहन से ही काम चला रहे हैं, जबकि प्रभारी बीएसए शिवेंद्र कुमार वर्मा भी अपनी विभागीय जीप से ही परीक्षा केंद्रों पर छापा मार रहे हैं। डायट प्राचार्य पन्नाराम गुप्ता वाहन न होने चलते बृहस्पतिवार को डीआईओएस कार्यालय में दिखे। इस संबंध में डीआईओएस संतप्रकाश ने बताया कि जिला प्रशासन से चार वाहनों की डिमांड की गई थी। अभी मात्र एक वाहन की मुहैया कराया गया है। फिलहाल विभागीय वाहनों से कार्य चलाया जा रहा है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/kbLxIgAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬