[rampur] - सीबीएसई परीक्षा: इस बार आठ चरणों में होगा सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के मूल्यांकन का कामकाज

  |   Rampurnews

रामपुर। सीबीएसई (सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन) की परीक्षा के मूल्यांकन का कामकाज अब आठ चरणों में होगा। इस बाबत सीबीएसई ने सभी को निर्देश जारी कर दिए हैं। अब तक यह काम छह चरणों में होता था। नए नियम को लागू करने का उद्देश्य गलतियों में कमी लाना है।

पंद्रह फरवरी से सीबीएसई की परीक्षाएं शुरु होनी है। लिहाजा, परीक्षाओं को लेकर सीबीएसई ने नियमों में कई बदलाव किए हैं। यहां तक कि एक बेंच पर एक परीक्षार्थी के बैठने की व्यवस्था की गई। इसके अलावा परीक्षाओं के बाद मूल्यांकन के कामकाज को लेकर भी फेरबदल कर दिया गया है। अब तक सीबीएसई परीक्षाओं का कामकाज छह चरणों में होता था। इसमें सबसे अहम मूल्यांकन है। अक्सर मूल्यांकन में गड़बड़ियों को लेकर शिकायतें सामने आती रहती थीं। कई बार प्रक्रिया के बाद इन शिकायतों का निस्तारण होता है। लिहाजा, मूल्यांकन में किसी भी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके लिए अब यह प्रक्रिया आठ चरणों की कर दी है। नए नियमों के अनुसार प्रथम चरण के तहत सबसे पहले परीक्षक कॉपी की जांच करेंगा। इसके बाद दूसरे चरण में कॉपी अपर परीक्षा प्रभारी मूल्यांकित कापियों की जांच करेगा। फिर तीसरा चरण शुरु होगा, जिसमें परीक्षा प्रभारी स्वयं उत्तरपुस्तिकाओं की जांच करेगा। चौथे चरण में समन्वयक की जिम्मेदारी होगी, जबकि अपर परीक्षा प्रभारी समन्वयक पांचवे चरण के तहत यह काम करेगा। छठें स्तर पर परीक्षा प्रभारी, सातवें स्तर पर केंद्र व्यवस्थापक और फिर आठवें स्तर पर रीजनल ऑफिसर जांची हुई उत्तरपुस्तिकाओं की जांच करेगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Q997YwAA

📲 Get Rampur News on Whatsapp 💬