[satna] - युवाओं को रोजगार देकर सरकार भरेगी अपना खजाना, शुरू हुआ पंजीयन, कुछ शतें भी अनिवार्य

  |   Satnanews

रीवा. मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना के तहत शहर में रह रहे युवाओं का पंजीयन प्रारंभ हो गया है। सरकार का निर्देश आया है कि युवाओं को व्यवसायिक कौशल का प्रशिक्षण देने के बाद ऐसे काम में लगाया जाए, जिससे निकाय को राजस्व का लाभ पहुंचे। पहले चरण में प्रशिक्षण के बाद युवाओं को संपत्तिकर और जलकर वसूली से जुड़े कार्य में लगाने की तैयारी की गई है। नगर निगम के पास राजस्व वसूली के लिए अभी पर्याप्त अमला नहीं है जिसके चलते हर साल करोड़ों रुपए कम राजस्व आ रहा है। लोगों ने मनमानी निर्माण भी करा लिया है और उसका टैक्स जमा नहीं करते हैं, इसलिए अब युवाओं को रोजगार से जोडऩे के साथ ही नगर निगम अपनी आय भी बढ़ाएगा। इसमें उन युवाओं को रोजगार मिलेगा जो हर महीने राजस्व बढ़ाने में भूमिका निभाएंगे। बताया गया है कि हर महीने १३ हजार ३०० रुपए की आय संबंधित युवक के माध्यम से निकाय को होना अनिवार्य है। योजना के तहत 21 से 30 वर्ष तक की आयु वाले शहरी युवाओं का पंजीयन प्रारंभ कर दिया गया है। आगामी 20 फरवरी तक पंजीयन होगा। इसके बाद 21 को उनके दस्तावेजों के सत्यापन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। 22 फरवरी प्रशिक्षण प्रारंभ किया जाएगा। हाल ही में शासन का निर्देश आया है कि नगर निगम चाहे तो अपनी आय के अनुसार युवाओं का कार्यक्षेत्र निर्धारित कर सकता है। अभी पहले चरण में संपत्तिकर एवं जलकर के काम में लगाने की निगम ने तैयारी की है।...

फोटो - http://v.duta.us/sD9-RgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/70chDAAA

📲 Get Satna News on Whatsapp 💬