[sehore] - बुदनी अस्पताल में डीएनसी करने वाली डॉक्टर के खिलाफ निलंबन का प्रस्ताव

  |   Sehorenews

सीहोर. नसरुल्लागंज में पदस्थ महिला डॉक्टर शानू सक्सेना के खिलाफ सीएमएचओ ऑफिस से हेल्थ कमिश्नर और क्षेत्रीय संयुक्त संचालक को निलंबन का प्रस्ताव भेजा गया है। महिला डॉक्टर पर बुदनी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बिना अनुमति, कॉल के डीएनसी करने के आरोप हैं। महिला डॉक्टर पर डीएनसी कराने वाली महिला सीमा बाई के पति गजेन्द्र सिंह ने 1700 रुपए लेने के आरोप भी लगाए हैं। बिना अनुमति, कॉल के दूसरे सरकारी अस्पताल में रिश्वत लेकर डीएनसी करने के आरोप में घिरी महिला डॉक्टर की फाइल बीते सात दिन से सीएमएचओ ऑफिस में दबी थी।

गुरुवार 14 फरवरी को 'बिना अनुमति 1700 रुपए में नसरुल्लागंज से बुदनी डीएनसी करने गई डॉक्टर!Ó शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया, जिसे लेकर प्रभारी सीएमएचओ डॉ. टीआर उइके ने हेल्थ कमिश्नर नीतेश कुमार व्यास और भोपाल संभाग के क्षेत्रीय संयुक्त संचालक डॉ. मोहन सिंह को प्रस्ताव भेजकर डॉ. शानू सक्सेना के निलंबन की सिफारिश की है। सीएमएचओ ऑफिस से हेल्थ कमिश्नर को भेजी गई रिपोर्ट में लिखा है कि डॉ. शानू सक्सेना ने शोकाज नोटिस का जो जबाव दिया है, वह संतोष जनक नहीं है। बुदनी बीएमओ डॉ. विष्णु देशमुख और नसरुल्लागंज बीएमओ मनीष सारस्वत के प्रतिवेदन के आधार पर डॉ. शानू सक्सेना दोषी हैं। प्रभारी सीएमएचओ डॉ. उईके ने दोनों बीएमओ ने प्रतिवेदन से संतुष्ट होकर महिला डॉक्टर के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई प्रस्तावित करते हुए प्रस्ताव वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा है।...

फोटो - http://v.duta.us/hWpUQAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jv_ukgAA

📲 Get Sehore News on Whatsapp 💬