[sirsa] - बॉटनी और जूलॉजी के विद्यार्थियों ने आठ महीने से प्रयोगशालाओं में कक्षाएं लगाने और किताबें इश्यू न होने पर वीसी कार्यालय में जताय

  |   Sirsanews

प्रोफेसर बोलीं- नया मकान शिफ्ट करने पर आती है दिक्कत, छात्राएं बोली- खाली प्लॉट में सामान लेकर नहीं बैठते

सिरसा। एमएससी बॉटनी और ज्योलॉजी के विद्यार्थियों ने वीरवार को सीडीएलयू में वीसी कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने पिछले एक साल से क्लासरूम न मिलने पर नारेबाजी कर रोष जताया। विद्यार्थियों की मांग है कि उन्हें किताबें इश्यू नहीं की जा रही है। कक्षाएं लगाने के लिए कमरे नहीं और उनकी कक्षाएं भी साइंस विभाग की प्रयोगशालाओं में लग रही है। छात्र और छात्राएं वीसी से मिलना चाहती थी, वीसी ने साइंस ब्लाक के तीन प्रोफेसरों को ही अपने कमरे में ही बुला लिया और मामला सुलझाने के निर्देश दिए। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि उनकी प्रैक्टिकल के लिए दूसरे विश्वविद्यालयों की प्रयोगशालाओं की विजिट करवाई जाएगी। साथ ही प्रोफेसर ने बॉटनी और जूलॉजी के विद्यार्थियों को शुक्रवार को साइंस ब्लाक में ही उनकी समस्याओं का समाधान करवाने का आश्वासन दिया। दोनों विभागों में कुल 60 विद्यार्थी है। इस दौरान एक प्रोफेसर ने कहा कि जब हम नए घर में प्रवेश करते हैं तो समझौता करते हैं। कुछ दिक्कतें आती है। तब एक छात्रा ने कहा कि खाली प्लाट में सामान लेकर नहीं बैठते। विश्वविद्यालय ने हमें अपने घर में नहीं बल्कि पड़ोसियों के घर में बैठा दिया है। विद्यार्थियों ने कहा कि सीडीएलयू में वे करीब 18 हजार रुपये एडमिशन फीस दी है। जबकि दूसरे विश्वविद्यालयों में दस हजार से नीचे ही एडमिशन फीस है, लेकिन सुविधा नहीं है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ZerYJgAA

📲 Get Sirsa News on Whatsapp 💬