एक 😱साल पहले विधवा के साथ किया 👥था गैंगरेप, प्रेग्नेंट हुई तो अब उसकी बच्ची 👧को उठाकर ले गए रेपिस्ट

  |   समाचार

झारखंड की राजधानी रांची से 38 किमी दूर अंगाड़ा ताने के अंतर्गत आने वाले नारायणपुर गांव में एक 40 वर्षीय विधवा आदिवासी गैंगरेप पीड़िता महिला की बच्ची के किडनैपिंग का मामला सामने आया है। उसने बताया है कि एक साल पहले दो लोगों ने मिलकर उसके साथ गैंगरेप किया था, अब उन लोगों ने उसके बच्चे को उठा कर अपने साथ ले गए हैं।

जब पुलिस को इस घटना की जानकारी मिली तो पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की। हालांकि पीड़ित महिला ने अभी तक अपनी तरफ से कोई शिकायत दर्द नहीं कराई है लेकिन पुलिस ने गांव वालों की मदद से मामले की प्रारंभिक जांच शुरू कर दी है साथ ही अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दिया है।

सिल्ली डीएसपी चंद्र शेखर ने कहा कि महिला ने एफआईआर दर्ज करने से इनकार कर दिया है, इसके अलावा उसने अपने बच्चे के बारे में भी कोई जानकारी देने से इनकार कर दिया है। हम अपनी तरफ से मिली जानकारी के आधार पर इसकी जांच कर रहे हैं।

झारखंड राज्य आय़ोग के चेयरपर्सन आरती कुजूर ने बताया कि पुलिस महिला के साथ हुए रेप और उसके बच्चे से जुड़े मामले की जांच कर रही है। पुलिस को कुछ अहम जानकारी हाथ लगी है जिसका खुलासा कर दिया जाएगा तो जांच प्रभावित हो सकती है।महिला ने बताया था कि ललकू कुमार मुंडा और राजकुमार मुंडा ने पिछले साल मार्च में उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था।

उसने बताया कि चार साल पहले उसके पति की मौत हो गई थी। इसके बाद वह दिहाड़ी मजदूरी का काम कर अपना और अपने बच्चे का पालन-पोषण कर रही थी। 12 वर्षीय बड़ी बेटी स्कूल में पढ़ती है जबकि 6 और 4 साल के दो बेटे उसके साथ ही रहते हैं। उसने बताया कि आधी रात के समय वे मेरे घर में घुस आए और मेरे साथ रेप किया और मुझे कई बार मारा भी।

अगली सुबह वे लोग मेरे पास फिर से आएं और मुझे कुछ चावल और पैसे देकर धमकी देकर चले गए। उन्होंने कहा कि अगर मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज की तो मुझे मार डालेंगे। उसने बताया कि जब मैं प्रेग्नेंट हो गई तो सभी ने मुझे चरित्रहीन औरत का तमगा दे दिया।

इसके बाद वे फिर से मेरे पास आए और मुझे फिर से अनाज औऱ पैसे देकर कहा कि मुझे बच्चा पैदा करना है। लगभग एक सप्ताह के बाद बच्ची पैदा हुई, तो वे आए और उसे लेकर चले गए। उन्होंने कहा कि ये बच्चा रांची के नामकुम में बाल कल्याण अधिकारियों की छाया में सुरक्षित रहेगा।

यहां पढ़ें पूरी खबर - http://v.duta.us/cbherwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬