[agra] - अपराजिता: 'मेहंदी खिलता रंग ही नहीं, हमारी संस्कृति का हिस्सा भी है'

  |   Agranews

हाथ में मेहंदी का कोन, हथेली पर खिंच रही हिना की लकीर, मन में अपने इस हुनर की दाद बटोरने की तमन्ना। हर एक चेहरे पर झलक रही तन्मयता। कुछ ऐसा ही नजारा गुरुवार को अमर उजाला के अपराजिता अभियान के तहत आयोजित मेहंदी रचाओ प्रतियोगिता में देखने को मिला।

गुरुवार को गोवर्धन के मुरारी कुंज सरस्वती विद्या मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल के सभागार में अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स अभियान के तहत मेहंदी रचाओ प्रतियोगिता हुई। कार्यक्रम में बालिकाओं व महिला शिक्षिकाओं ने उत्साह के साथ भाग लिया।

मेहंदी रचाओ प्रतियोगिता में छात्रा साक्षी की रचाई मेहंदी सबसे अव्वल रही, जबकि शिक्षिकाओं में प्रतिभा लवानियां ने सबसे बेहतर मेहंदी रचाई। निर्णायक मंडल की तरफ से दीपिका कौशिक ने मेहंदी प्रतियोगिता की प्रतिभागियों की सर्वश्रेष्ठ मेहंदी प्रतियोगी का चयन किया।...

फोटो - http://v.duta.us/PZw78AAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/7wP-dwAA

📲 Get Agra News on Whatsapp 💬