[balod] - फाइलेरिया की गिरफ्त में बालोद जिला, युवाओं के साथ बच्चे भी चपेट में

  |   Balodnews

बालोद. आपको जानकर आश्चर्य होगा कि जिले के युवा वर्ग फाइलेरिया के गिरफ्त में आ रहे हैं, पर इस लाइलाज बीमारी के की चपेट में युवाओं के साथ छोटे बच्चों के भी आने की जानकारी मिली है। जिले में बढ़ते इसके मरीजों की स्थिति बढ़ते क्रम में है, जो स्वास्थ्य विभाग के लिए चिंता का कारण बन गई है।

जिले में है 448 मरीज

विभाग में दर्ज एक आंकड़े के मुताबिक जिले में 448 फाइलेरिया(हाथी पांव) के मरीज हैं। माना जाता है कि यह गंभीर बीमारी गंदगी और स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही से मादा क्यूलेक्स मच्छर के काटने से होती है। जिले में सबसे ज्यादा फाइलेरिया के मरीज डौण्डीलोहारा ब्लॉक में है, जहां सबसे ज्यादा 213 मरीज हैं। माना जाता है कि जंगल क्षेत्र में ही क्ल्यूलेक्स मच्छर की अधिकता भी पाई जाती है। पर अब जिला स्वास्थ्य विभाग इस बीमारी को रोकने योजना बना रहा है। आने वाले 8 से 10 फरवरी तक जागरूकता अभियान चलाएंगे।...

फोटो - http://v.duta.us/eh8_egAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qFHeMwAA

📲 Get Balodnews on Whatsapp 💬