[chhattisgarh] - क्या है अंतागढ़ टेपकांड, जिसकी जांच के लपेटे में हैं पूर्व मंत्री राजेश मूणत सहित कई दिग्गज?

  |   Chhattisgarhnews

दिसंबर 2015 में सामने आए एक ऑडियो टेप ने छत्तीसगढ़ की राजनीति में भूचाल ला दिया. इस ऑडियो टेप में हाईप्रोफाइल नामों पर आरोप लगे. इतना ही नहीं प्रदेश में थर्ड फ्रंट के रूप में उभरने वाली तीसरी पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे की नींव का आधार भी यही टेपकांड बना. क्योंकि इस टेपाकांड के बाद ही कांग्रेस के तत्कालीन दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी को पार्टी से बाहर कर दिया गया. इसके बाद अजीत जोगी ने भी कांग्रेस छोड़ दी और नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया.

छत्तीसगढ़ में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस अब राजनीति में भूचाल लाने वाले ऑडियो टेप की नए सिरे से जांच करवा रही है. इसके लिए एसआईटी का भी गठन कर दिया गया है. मामले में हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, अमित जोगी, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता, पहले कांग्रेस और अब भाजपा नेता मंतूराम पवार और भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री राजेश मूणत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. रायपुर के पंडरी थाने में कांग्रेस नेत्री डॉ. किरणमयी नायक के आवेदन पर 420 तथा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में केस रजिस्टर किया गया है. मामले में हाई प्रोफाइल लोगों के आरोपी बनाए जाने के कारणों को जानें, इससे पहले जानते हैं क्या है अंतागढ़ टेपकांड....

फोटो - http://v.duta.us/jqhs6gAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Os4TTwAA

📲 Get Chhattisgarh News on Whatsapp 💬