[jashpur-nagar] - मवेशियों की मौत ने बढ़ाई पशुपालकों की चिंता

  |   Jashpur-Nagarnews

पत्थलगांव. शहर मे एक सप्ताह के भीतर एक दर्जन मवेशियों की मौत हो जाने के बाद पशुपालकों की चिंता बढ गई हैै। इनका कहना है कि सरकार द्वारा प्लास्टिक से बने बैग पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा देने के बाद भी बाजार मे इसकी खरीदी बिक्री फिर से जोरों पर चल रही है। पशु पालको का मानना है कि गाय या अन्य पशु खुले मे अपना चारा जुगाड करने के दौरान प्लास्टिक की थैलियों को खा लेते हैं, जो धीरे-धीरे इनके पेट मे जमा होकर बाद मे नुकसान करते हुए उनकी की मौत का कारण बन रही है। इससे पहले भी 15 से भी अधिक पशुओं की अकाल मौत हुई थी। इस घटना को लेकर अनेक समाजसेवी संस्था की ओर से विरोध जताया गया था। पर धीरे-धीरे अब पुन: प्लास्टिक की थैलियों का खुलकर उपयोग होने के कारण फिर मवेशियों की मौत का सिलसिला शुरू हो चुका है। गुरूवार को भी अंबेडकर नगर मे एक बछिया की मौत हो गई। इस बछिया के पालको से जब मौत का कारण पूछा गया तो ये कुछ भी बता नही पा रहे थे, पर कुछ पशुपालक प्लास्टिक के सामानो को खाने के बाद उसके नुकसान से मवेशी की मौत होने का अंदेशा व्यक्त कर रहे हैं। पशु चिकित्सक डॉ.दिनेश पैंकरा से जब एक के बाद एक हो रही मवेशियों की मौत के विषय मे जानकारी चाही गई तो इन्होने प्लास्टिक का आहार करने से मौत होने से मना कर दिया। इनका कहना था कि मौसम की वजह से पशुओ मे संक्रमण बीमारी फैलने के बाद कुछ मवेश्यिों की मौत हुई होगी।...

फोटो - http://v.duta.us/sKWRSQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/xAjkZQAA

📲 Get Jashpur-Nagarnews on Whatsapp 💬