[muzaffarnagar] - दारुल उलूम में वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में 355 छात्र पुरस्कृत

  |   Muzaffarnagarnews

देवबंद (सहारनपुर)। दारुल उलूम के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में 355 छात्रों को पुरस्कार के रूप में नगद धनराशि व पुस्तकों का वितरण किया गया।

बृहस्पतिवार को दारुल उलूम की मस्जिद रशीदिया में आयोजित हुए कार्यक्रम की शुरुआत कारी अब्दुल रऊफ की तिलावत-ए-कलाम पाक से हुई। बाद में शिक्षा प्रभारी मौलाना अफजल कैमूरी ने वार्षिक तालीमी रिपोर्ट पेश की। जिसके आधार पर 324 छात्रों को शत प्रतिशत उपस्थिति के लिए दारुल उलूम और मजलिस-ए-शूरा के सदस्य मौलाना बदरुद्दीन अजमल की ओर से दो-दो हजार रुपये, एक दिन की गैरहाजिरी वाले 31 छात्रों को एक-एक हजार रुपये की नगद धनराशि व पुस्तकें भेंट की र्गइं, जबकि प्रथम, द्वितीय व प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को विशेष पुरस्कार दिया गया। अध्यक्षता कर रहे संस्था के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी बनारसी ने कहा कि छात्र जिस उद्देश्य की पूर्ति के लिए यहां आए हैं उसी पर ध्यान लगाएं। मेहनत और लगन के साथ तालीम हासिल कर माता पिता का नाम रोशन करें। उन्होंने कहा कि इस्लामी तालीम सही रास्ते पर चलने और आपसी भाईचारे का पैगाम देती है। मौलाना मुफ्ती सईद अहमद पालनपुरी ने कहा कि छात्रों को अकाबिरों (बड़े उलमा) के रास्ते पर चलकर दीन इस्लाम की खिदमत को अंजाम देना चाहिए। साथ ही इसकी रोशनी दूसरों तक पहुंचाने का काम करें। उन्होंने कहा कि छात्रों की जिम्मेदारी है कि वह इस्लाम दुश्मन ताकतों की साजिशों से बचकर इस्लाम का परचम बुलंद करें। अंत में मोहतमिम बनारसी ने मुल्क में अमनो अमान और छात्रों के उज्ज्वल भविष्य के लिए दुआ कराई। संचालन मौलाना सलमान बिजनौरी व मौलाना खिजर अहमद कश्मीरी ने संयुक्त रूप से किया। इस मौके पर भारी संख्या में मदरसा छात्र व उस्ताद मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ZhQ6ewAA

📲 Get Muzaffarnagar News on Whatsapp 💬