[bilaspur] - हाथ से मैला उठाने वाले मामले में शासन के जवाब पर हाईकोर्ट ने जताई नाराजगी, कहा एसी कमरे से निकल मौके पर जाकर पता करें

  |   Bilaspur-Chattisgarhnews

बिलासपुर. हाथ से मैला उठाने वाले सफाई कर्मचारियों के लिए बनाए गए कानून का पालन नहीं किए जाने को लेकर दायर जनहित याचिका पर बुधवार को शासन ने अपना जवाब पेश किया। शासन की रिपोर्ट पर सीजे अजय कुमार त्रिपाठी व जस्टिस पीपी साहू की युगलपीठ ने नाराजगी जताते हुए अधिकारियों से कहा एसी कमरे से बाहर निकल मौके पर जाएं और 8 सप्ताह में जमीनी रिपोर्ट पेश करें।

27 फरवरी को मामले की पिछली सुनवाई के दौरान सचिव द्वारा दिए गए एफिडेबिट को भी कोर्ट ने भ्रामक और अपूर्ण बताते हुए नए सिरे से जवाब देने का निर्देश दिया था। कोर्ट के निर्देश के बाद बुधवार को शासन की ओर से भारी-भरकम रिपोर्ट पेश की गई। कोर्ट ने इसे भी अपूर्ण बताते हुए अधिकारियों को मौके पर जाकर विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा है। पिटिशनर इन परसन रायपुर के जनमेजय सोना ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर हाथ से मैला उठाने वाले सफाई कर्मचारियों के बनाए गए कानून का पालन नहीं करने और पर्याप्त सुरक्षा तथा संसाधन के बिना काम लिए जाने का आरोप लगाया है। याचिका में बताया गया कि प्रदेश में ऐसी कई घटनाएं हो चुकी हंै, जब सफाई कर्मचारियों की कार्य के दौरान दम घुटने से मौत हो चुकी है। लेकिन इनकी सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम शासन द्वारा नहीं उठाया गया है। मामले की आगामी सुनवाई 8 सप्ताह बाद होगी।

फोटो - http://v.duta.us/jExWggAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/dalpMwAA

📲 Get Bilaspur-Chattisgarhnews on Whatsapp 💬