[meerut] - कैराना पलायन मुद्दा: घर वापस लौटा परिवार, कहा- अब शहर में हुआ सुरक्षा का एहसास

  |   Meerutnews

रंगदारी की दहशत से कैराना से पलायन करने वाले परिवारों के लौटने का क्रम जारी है। व्यापारियों का मानना है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है। लोगों का शासन और जिला प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ा है। करीब दो साल पहले दहशत भरे माहौल के चलते परिवार को राजस्थान के उदयपुर भेजने वाला सराफ वहां शिफ्ट हुए अपने बीवी और बच्चों को फिर से कैराना ले आए।

कैराना में दशकों तक रंगदारी का दौर चला। इसके चलते कई परिवार यहां से दूसरे शहरों में बस गए। मई 2016 में भाजपा सांसद हुकुम सिंह द्वारा पलायन सूची जारी करने के बाद देश की राजनीति में भूचाल आ गया था, लेकिन समय के साथ बदले माहौल से पलायन कर गए परिवारों का लौटना जारी है। करीब दो साल पहले मोहल्ला सरावज्ञान निवासी व्यापारी संदीप वर्मा ने दहशतजदा माहौल के चलते अपनी पत्नी, दो बेटी और एक बेटे को राजस्थान के उदयपुर शहर में भेज दिया था। उदयपुर में ही संदीप की पत्नी का मायका है। उसने वहां पर अलग मकान लेकर बच्चों के वहीं दखिले करा दिए थे और खुद कैराना में अपनी ज्वेलरी शॉप चला रहे थे। महीने में एक दो बार बच्चों से मिलने चले जाते थे।...

फोटो - http://v.duta.us/iPYamwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qolq3wAA

📲 Get Meerut News on Whatsapp 💬