[rajsamand] - लंदन से आई गोरी मेम सीखा रही शिक्षा के गुर

  |   Rajsamandnews

प्रमोद भटनागर

देवगढ़. राजकीय आदर्श उमावि स्वादड़ी में आजकल माहौल कुछ बदला-बदला सा लगता है। इसका कारण बन रही है लंदन की गौरी मेम, जो अपने भ्रमण के दौरान समय निकालकर बच्चों को कुछ नया सीखाने में विशेष रूचि दिखा रही है।

विद्यालय परिसर में लंदन से आई ओना कक्षा 5 व 4 के विद्यार्थियों को गत 7 मार्च से शिक्षण करा रही है। उनका मानना है कि संसार का सही मायने में विकास शिक्षा के माध्यम से ही हो सकता है। शिक्षा ही ऐसा साधन है, जो संसार को बदलने में सहायक होता है । ओना यहां अंग्रेजी शिक्षण करा रही है, वह यहां 25 दिन तक शिक्षण कार्य कराएगी। यह कार्यक्रम देवगढ़ के शत्रुंजय सिंह व भावना कुमारी सिंह के सहयोग हो रहा है। इसके कोऑर्डिनेटर देवेंद्रसिंह कच्छावा हंै। कच्छावा ने बताया कि पिछले 10 वर्षों से वह शिक्षा में नवाचार के लिए इस तरह ब्रिटेन, आयरलैंड, स्वीडन एवं फ्रांस से शिक्षकों को यहां बुलाकर शिक्षण में नवाचारों से शिक्षक एवं शिक्षार्थियों को आत्मसात करवा रहे हैं। लंदन की ओना मुख्यत: गतिविधि आधारित शिक्षण को ही प्राथमिकता देती है। अधिगम को प्रभावी बनाने के लिए शिक्षण सामग्री कविता कला व गीतों का सहयोग लिया जा रहा है। गतिविधि केवल विद्यार्थियों तक ही सीमित नहीं है खुद शिक्षक भी इसमें सम्मिलित होता है तभी शिक्षण ग्राही होता है। प्रधानाचार्य प्रहलाद सिंह कच्छावा ने बताया कि यह एक अभिनव प्रयोग है, जो शिक्षार्थियों के साथ शिक्षकों में भी सकारात्मक परिवर्तन ला रहा है। ओना के शिक्षण कार्यक्रम के समय अंग्रेजी की शिक्षिका किरण छापरवाल, डाउसिंह चौहान, केसर चौहान, कैलाश पालीवाल, नीलम चौधरी व राजेंद्र कुमार सहयोग कर रहे हैं।

फोटो - http://v.duta.us/Z8PZagAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zrRE6gAA

📲 Get Rajsamand News on Whatsapp 💬