[dhamtari] - राइस मिलों के काले धुएं से प्रदूषण का बढ़ा रिकार्ड, स्तर पहुंचा 7-8 एक्यूआई तक

  |   Dhamtarinews

धमतरी. राइस मिलों की चिमनियों से निकलने वाले वाले काले धुएं से जिले में प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ रहा है। इसके बाद भी जिले के 53 फीसदी राइस मिलों में ईपीएस मशीन नहीं लगाया गया है। ऐसे में लोगों की सेहत पर इसका विपरत असर पड़ रहा है।

जिले मेंं करीब 192 राइस मिलें संचालित हो रही है। कस्टम मिलिंग के तहत अनुबंध होने से राइस मिलों में लगातार काम चल रहा है, जिसके चलते इसकी चिमनियों से निकले वाला काला धुआं और राखड़ से लोगों का जीना मुहाल हो गया। ग्राम अर्जुनी, शंकरदाह, पोटियाडीह, देमार, कुरूद समेत आसपास के क्षेत्रों में बड़ी संख्या में राइस मिले संचालित हो रही है, लेकिन यहां शासन के नियमों को ताक पर रख दिया गया है। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों पर्यावरण मंडल के अधिकारियों ने यहां के ग्रामीण क्षेत्रों का मुआयना किया था, उन्होंने प्रदूषण के स्तर को जांचने के बाद इस पर लगाम कसने के लिए जिला प्रशासन को निर्देश भी दिया था।...

फोटो - http://v.duta.us/iHlYLwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ObtnEQAA

📲 Get Dhamtarinews on Whatsapp 💬