[lakhimpur-kheri] - दरवाजे पर बाघ खड़ा देख घबराए लोग

  |   Lakhimpur-Kherinews

दरवाजे पर खड़ा दिखा बाघ, दहशत

ममरी (लखीमपुर खीरी)। वनरेंज मोहम्मदी महेशपुर क्षेत्र के सुंदरपुर गांव में रविवार सुबह घास चर रहे बछड़े को निवाला बनाकर दो दिनों से गन्ने के खेतों में डेरा जमाए बाघ सोमवार की रात परबस्तनगर गांव की आबादी में जा घुसा। दरवाजे पर खड़े बाघ को देखकर लोग दहशत में आ गए। बाघ के छठवीं बार गांव में घुसने, पगचिह्न मिलने की पुष्टि वनकर्मियों ने की है।

शनिवार की रात से गन्ने के खेतों में विचरण कर रहे बाघ ने रविवार सुबह सुंदरपुर के सरस्वती शिशु मंदिर के पीछे श्रीपाल के खेत में बछड़े को अपना शिकार बनाया। उसके बाद वह सोमवार की रात परबस्त नगर गांव में पहुंच गया। गांव के ऋषीपाल यादव, महिपाल यादव, विजयपाल, शान मोहम्मद ने बताया कि पशुओं के रंभाने, कुत्तों के भौंकने पर जब उन्होंने दरवाजा खोलकर टार्च जलाई तो बाघ सामने दिखा। लोगों के शोर मचाने, आग जलाने पर बाघ दहाड़ता हुआ वहां से चला गया। ग्रामीणों ने यह भी बताय कि इससे पूर्व भी बाघ पांच बार गांव में आ चुका है। देवीपुर बीट जंगल की दूरी महज एक किमी है। गांव के समीप बाघ मौजूद होने पर भी वन विभाग की ओर से ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं जिससे लोगों में दहशत है। फारेस्टर रामप्रसाद, वनरक्षक विनीत सिंह, बेचेलाल ने बताया कि यह वही बाघ है जिसने रविवार को सुंदरपुर में बछड़े को शिकार बनाया था। वनकर्मियों की टीम गांव में डेरा डाले है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/UTzNWgAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬