[sidhi] - आरटीआई एक्ट का खुला उल्लंघन: सांसद रीति पाठक के बारे में मांगी थी यह जानकारी, ऐसा क्या था मामला कि अफसर ने कर दिया मना

  |   Sidhinews

सीधी. जिले में आरटीआई (सूचना का अधिकार अधिनियम-2005) का खुला उल्लंघन किया जा रहा है। खासकर, जब किसी जनप्रतिनिधि व अधिकारी से जुड़ी जानकारी मांगी जाती है तो जिम्मेदार गुमराह करने लगते हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि अधिनियम क्या सिर्फ कर्मचारियों के लिए है। ऐसा ही मामला जिला योजना सांख्यिकी कार्यालय में सामने आया है। सांसद मद के संदर्भ में जानकारी मांगी गई तो जिम्मेदार अधिकारी ने आवेदन लेना ही उचित नहीं समझा गया, वहीं जब पोस्ट ऑफिस से आवेदन भेजा गया तो उसे भी लेने से इंकार करते हुए वापस कर दिया गया।

यह मांगी थी जानकारी

जिले के टकटैया निवासी मानिक लाल साकेत ने योजना मंडल के अधिकारी को हाथों हाथ पत्र देकर सांसद मद से कराए गए विकास कार्य की जानकारी मांगी थी। साथ ही वर्ष 2014 से 19 तक सांसद रीति पाठक ने कितने लोगों को आर्थिक सहायता, अनुदान राशि, कार्य की लागत कार्यस्थल का विवरण क्रियान्वयन एजेंसी के नाम व भौतिक सत्यापन का प्रमाण-पत्र सहित निजी स्कूलों को दी गई अनुदान राशि का विवरण मांगा था। जिसे पढ़कर जिला योजना मंडल अधिकारी ने उनका पत्र लेने से ही इंकार कर दिया।...

फोटो - http://v.duta.us/bzKsDgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jtYFJgAA

📲 Get Sidhi News on Whatsapp 💬