[singhbhum-east] - 12 साल बाद भी हत्याकांड का राज नहीं खुला

  |   Singhbhum-Eastnews

मुख्य शूटर रंजीत पाल उर्फ राहुल बंगाल में कर चुका हैं सरेंडर

गालूडीह : चार मार्च 2007 को बाघुड़िया की मिट्टी सांसद सुनील महतो समेत चार के खून से लाल हो गयी थी. होली की शाम थी. देश रंग में सराबोर हो रहा था और बाघुड़िया में नक्सली खून की होली खेल रहे थे. घटना के 12 साल बीत गये, लेकिन सांसद हत्याकांड का राज नहीं खुला. सांसद सुनील महतो की हत्या करने वाले मुख्य शूटर हार्डकोर नक्सली रंजीत पाल उर्फ राहुल ने 25 जनवरी 2017 को कोलकाता पुलिस मुख्यालय में हथियार के साथ सरेंडर कर दिया था.

बंगाल सरकार उसे पुलिस सेफ हाउस में रखी है. झारखंड पुलिस तब उसे झारखंड लाने के लिए काफी प्रयास किया. परंतु सफल नहीं हुई. सांसद हत्याकांड का मामला घटना के 15 दिनों तक पुलिस के हाथों में था. इस मामले को सीबीआइ ने लिया. राज अब भी दफन है. सांसद को नक्सलियों ने मारा यह तो जग जाहिर है....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Dx-L6AAA

📲 Get Singhbhum-east News on Whatsapp 💬