[singhbhum-west] - व्हाट्सएप ने दूर की दूरियां

  |   Singhbhum-Westnews

जैंतगढ़ : पांच वर्ष पूर्व मानसिक विक्षिप्तता के कारण अपनों से बिछड़ गये जितेंद्र तिवारी सोशल मीडिया व जैंतगढ़ के समाजसेवी मुन्ना पोद्दार के प्रयास से अपना परिवार मिल गया. दरअसल 50 वर्षीय जितेंद्र तिवारी बीते एक वर्ष से जैंतगढ़ की सड़कों के किनारे रह रहा था. वह हाथ में एक माला लेकर अजीब हरकत करता रहता था.

जो कुछ मिलता वही खा कर रह जाता था. कड़ाके की ठंड फुटपाथ पर बीता दी. हालांकि उसकी भाषा व बात करने का तरीका सभ्य परिवार का लगता था. एक दिन मुन्ना पोद्दार ने उससे बात की. उसकी भाषा बिहार के गोपालगंज जिले से मिलजुल रही थी. उन्होंने उसकी फोटो खींच कर बिहार के व्हाट्स एप ग्रुप में डाल दिया....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/eAjN1wAA

📲 Get Singhbhum-west News on Whatsapp 💬