[alwar] - अलवर सामान्य चिकित्सालय के हाल, ए श्रेणी का दर्जा, लेकिन नहीं है यह सुविधा

  |   Alwarnews

अलवर. अलवर जिला मुख्यालय स्थित सामान्य चिकित्सालय ए श्रेणी का है लेकिन विशेषज्ञों का अभाव होने से मरीजों को इलाज मिलना मुश्किल हो रहा है। वर्षो से यहां पर कोर्डियोलॉजिस्ट, नेफरोलॉजिस्ट, ऑडियोलोजिस्ट, न्यूरोलोजिस्ट का पद खाली है। इससे मरीजों को निजी चिकित्सालय में महंगे दामों में इलाज करवाना पड़ता है। सामान्य चिकित्सालय में दुर्घटनाग्रस्त मरीजों के इलाज के लिए ट्रोमा सेंटर है लेकिन न्यूरोलॉजिस्ट नहीं है।

दस प्रतिशत होते हैं हृदयरोगी

गौरतलब है कि मेडिकल कॉलेज एसएमएस जयपुर के बाद जिला अस्पतालों में अलवर जिला सामान्य चिकित्सालय की ओपीडी सबसे ज्यादा है। यहां सामान्य दिनों में ओपीडी में आने वाले मरीजों की संख्या 1000 से 1200 रहती है वहीं मौसमी बीमारियों के दौरान संख्या करीब 2500 तक पहुंच जाती है। यहां अलवर जिले से ही नहीं बल्कि दौसा, हरियाणा, मथुरा, भरतपुर व यूपी से भी मरीज इलाज के लिए आते हैं। इनमें ऐसे मरीज ज्यादा होते हैं जिनको न्यूरोलॉजिस्ट व कोर्डियोलॉजिस्ट की जरुरत होती है। इसी तरह से हियरिंग समस्याओं के लिए ऑडियोलोजिस्ट व किडनी सम्बंधी बीमारियों के इलाज के लिए नेफ्रोलॉजिस्ट भी नहीं है।...

फोटो - http://v.duta.us/CT59HwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/t10k1gAA

📲 Get Alwar News on Whatsapp 💬